समर्थक

बुधवार, 8 जुलाई 2015

आईबीसीएन तैयार करेगी केरल राज्य के पक्षियों का एटलस

चित्र साभार :- IBCN की फेसबुक वॉल से
इंडियन बर्ड कंजर्वेशन नेटवर्क ( आईबीसीएन ) ने केरल के पक्षियों का वर्गीकरण कर उसका एटलस तैयार करने का निर्णय लिया है। यह किसी भी भारतीय राज्य का पहला बर्ड एटलस होगा। बर्ड एटलस क्षेत्र विशेष में मौजूद पक्षियों की जानकारी देता, साथ ही, यह उस क्षेत्र में पक्षियों के आवागमन और उनकी उपस्थिति का सही रुझान भी बताता है। जैसा कि नाम से स्पष्ट है, आईबीसीएन पक्षी प्रेमियों और प्रकृति तथा पक्षियों के संरक्षण की दिशा में काम करने वाले कई गैरसरकारी संगठनों का एक नेटवर्क है।

यह बॉम्बे नेचुरल हिस्ट्री सोसाइटी ( बीएनएचइस ) का हिस्सा है। वर्ष 1998 में बीएनएचएस ने बर्ड लाइफ इंटरनेशनल और आरएसपीबी ( ब्रिटेन की बर्ड लाइफ ) के सहयोग से आईबीसीएन की स्थापना की थी। इंडियन बर्ड कंजर्वेशन नेटवर्क की गिनती अब देश के बड़े नेटवर्कों में होती है। इसके 700 व्यक्तिगत सदस्य हैं, जबकि 80 सांस्थानिक। यह 2,000 से अधिक पक्षी प्रेमियों को जोड़ने में सफल रहा है।

7 टिप्‍पणियां:

  1. आपके हिन्दी ब्लॉग और चिट्ठे को चिट्ठा फीड्स एग्रीगेटर में शामिल किया गया है। सादर … धन्यवाद।।

    उत्तर देंहटाएं
  2. Become Global Publisher with leading EBook Publihisng COmpany(Print on Demand), Join For Free Today, and start Publihsing:http://goo.gl/hpE0DY

    उत्तर देंहटाएं
  3. अच्छी जानकारी
    http://savanxxx.blogspot.in

    उत्तर देंहटाएं
  4. आपके इस ब्‍लाग की जितनी प्रशंशा की जाए कम है। अच्‍छा काम कर रहे हैं आप। कभी आइए हमारे ब्‍लाग पर भी।

    उत्तर देंहटाएं

आपकी अमूल्य टिप्पणी के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद।
गौरेया के लेख पसंद आने पर कृपया गौरेया के समर्थक (Follower) बने। धन्यवाद।

लोकप्रिय लेख